दुग्ध विकास मंत्री धन सिंह रावत ने उच्च शिक्षा निदेशालय में की बैठक, जानिए महत्वपूर्ण निर्णय।

हल्द्वानी 19 सितम्बर (सूचना) उच्च शिक्षा, सहकारिता, प्रोटोकाॅल एवं दुग्ध विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ.धन सिंह रावत ने शनिवार को उच्च शिक्षा निदेशालय में समीक्षा बैठक करते हुए सभी कार्यदायी संस्थाये महाविद्यालयों में चल रहे निर्माण कार्यों को गुणवत्तायुक्त एवं समयबद्धता से पूरा करने के निर्देश दिए।

IMG 20200919 WA0025

बैठक से पहले निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.कुमकुम रौतेला द्वारा मा.मंत्री जी का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। बैठक में निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.कुमकुम रौतेला, कुलपति उत्तराखण्ड ओपन यूनिवर्सिटी प्रो.ओपीएस नेगी, निदेशक समाज कल्याण विनोद गिरी गोस्वामी, उप निदेशक एनएस बनकोटि, सहायक निदेशक डाॅ.एचएस नयाल, प्रेम प्रकाश के अलावा कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी आदि मौजूद थे।.रावत ने समीक्षा के दौरान निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी निर्माण कार्य कोविड-19 के कारण पिछड़ गये हैं, उन सभी कार्यों को द्रुतगति से पूरा किया जाये। उन्होंने कहा कि कार्यों को गुणवत्तायुक्त एवं समयबद्धता से पूरा न करने वाली संस्थाओं को ब्लैक लिस्ट करने में किसी भी प्रकार का संकोच नहीं किया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि कार्यदायी संस्थाऐं जारी किये गये बजट का उपयोग प्रमाणपत्र समय से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें ताकि अगली किश्त जारी की जा सके।

IMG 20200919 WA0021

उन्होंने कार्यदायी संस्था यूपी निर्माण निगम के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड ओपन विश्वविद्यालय में चल रहे निर्माण कार्यो को 30 नवम्बर तक पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने उत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालय में चल रहे निर्माण कार्यों का समय-समय पर औचक निरीक्षण करने के निर्देश उप जिलाधिकारी हल्द्वानी को दिए। उन्होंने अमोड़ी महाविद्यालय का निर्माण कार्य मार्च 2021 तक पूरा करने, राजकीय महाविद्यालय मनुस्यारी का निर्माण कार्य 31 अक्टूबर तक, राजकीय महाविद्यालय बनबसा का कार्य 27 सितम्बर तक, रूद्रपुर डिग्री काॅलेज का अक्टूबर के प्रथम सप्ताह तक, एमबीपीजी काॅलेज में निर्माण कार्य 10 अक्टूबर तक, डिग्री काॅलेज सोमेश्वर का कार्य अक्टूबर प्रथम सप्ताह में पूर्ण करने के निर्देश दिए।

IMG 20200919 WA0023

इसके साथ ही डाॅ.रावत से विभिन्न विद्यालयों में चल रहे निर्माण कार्यों को समयबद्धता एवं गुणवत्ता से पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने समाज कल्याण के अन्तर्गत नए छात्रावास बनाये जाने हेतु मानकों के अनुसार प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश कार्यदायी संस्था मण्डी परिषद के अभियंताओं को दिए। उन्होंने विभिन्न संकायों में सृजिद पदों एवं रिक्त पदों की विषयवार गहनता से समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।


Leave a Reply

Your email address will not be published.