सियासत: मंत्री हरक सिंह की तरफ कांग्रेस ने बढ़ाया हाथ, पार्टी में शामिल होने का दिया न्यौता

उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत की बीजेपी से नाराजगी का समाधान नजर नहीं आ रहा है। उनकी पार्टी से खिन्नता अब जगजाहिर हो गई है।सार्वजनिक आयोजनों में भी अब उनकी यह खिन्नता जाहिर होने लगी है। हाल में हरक सिंह देहरादून में अपने विभाग से संबंधित कार्यक्रम में भी शामिल नहीं हुए। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाग लिया, परन्तु डॉ. हरक सिंह रावत कार्यक्रम में अनुपस्थित रहे। वहीं कांग्रेस और आम आदमी पार्टी डॉ. हरक सिंह रावत को पार्टी में शामिल होने का निमंत्रण दे रही है।कांग्रेस की वरिष्ठ लीडर इंदिरा हृदयेश और उपनेता सदन करन माहरा ने हरक सिंह को कांग्रेस में शामिल होने का आमंत्रण दिया है।

आपको बता दें कि कुछ ही दिन पूर्व उन्होंने आने वाले विधानसभा चुनाव में न लड़ने का ऐलान किया। उनके इस बयान के बाद उत्तराखंड की सियासी राजनीति गरमा गई।

कांग्रेस महासचिव हरीश रावत ने स्पष्ट तौर पर इस बात की तरफ इशारा किया कि हरक सिंह रावत को पार्टी में उनका समर्थन प्राप्त नहीं होगा। एक अनुमान के अनुसार डॉ. हरक सिंह रावत के आप ज्वाइन करने के कयास भी लगाए जा रहे हैं। हालांकि रावत ने अभी तक स्पष्ट तौर पर कुछ भी जाहिर नहीं किया है।
वहीं बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष का कहना है कि हरक सिंह रावत पार्टी का साथ नहीं छोड़ेंगे।

जहां एक ओर कांग्रेस की तरफ से डॉ. इंदिरा हृदयेश व कांग्रेस विधायक दल के उपनेता करन माहरा एवं आप के प्रदेश प्रवक्ता रविंद्र आनंद ने रावत को अपनी अपनी पार्टी में शामिल होने का न्यौता दिया तो वहीं दूसरी ओर हरक सिंह रावत को कांग्रेस के आमंत्रण से पूर्व सीएम हरीश रावत नाराज हैं। आप प्रदेश भी अध्यक्ष एसएस कलेर रावत को पार्टी में लेने से इनकार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.