सियासत : राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत रावत से छिना बोर्ड का अध्यक्ष पद, यह थी मुख्य वजह

राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत का भवन एवं सन्निर्मांण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद का पदभार वापस लेते हुए उन्हें इस पद से हटा दिया गया है। उनके स्थान पर श्रम संविदा बोर्ड के अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल को अतिरिक्त प्रभार सौंपते हुए उन्हें भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद पर नियुक्त कर दिया गया है।

क्या है मामला

कुछ समय पहले जून 2020 में हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल की गई थी जिसमें बोर्ड के अध्यक्ष श्रम मंत्री हरक सिंह रावत पर पुत्रवधू के एनजीओ को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया गया था। यह मामला अभी उत्तराखंड हाईकोर्ट में लंबित है।
इस मामले में श्रम मंत्री हरक सिंह रावत, पुत्रवधू अनुकृति गुसाईं, सचिव श्रम और केंद्र सरकार के श्रम विभाग को भी नोटिस जारी हुए हैं।

बोर्ड के खाते में अभी 100 करोड़ से भी ज्यादा का बजट मौजूद है।भवन निर्माण से संबंधित कामगारों को उपकरण, सिलाई मशीन, साइकिल, और उनके बच्चों को छात्रवृत्ति दी जाती है।राज्य में भवन निर्माण मानचित्र पास कराने का एक प्रतिशत लेबर सेस बोर्ड के खाते में ही आता है। लॉकडाउन के दौरान राशन किट का वितरण एवं एक एक हजार की आर्थिक मदद बोर्ड की ओर से प्रदान कि गई। श्रम सचिव हरवंश सिंह चुघ ने मंगलवार शाम इस हेतु आदेश जारी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.